गोधूली एप्प अब प्ले स्टोर पर उपलब्ध

स्वर्णप्राशन आरम्भ करने का अगला शुभ

पुष्यनक्षत्र: 10 अप्रैल

Gaudhuli App

Now on Play Store
  • Calcium Drops – मंत्रौषधि कैल्शियम बूँद – 15 ml

    बाजार के चूने से कई गुना शुद्ध एवं गुणकारी

    गुणधर्म:

    • कैल्शियम की कमी को दूर करें
    • दांतो और हड्डियों को मज़बूत करें
    • नाख़ून की वृद्धि होती है
    • बच्चो और गर्भवती महिलाओ के लिए विशेष रूप से लाभदायक
    • शरीर में अस्थि धातु को संतुलित एवं स्थिर कर दर्द में लाभ करता है
    • इसके निर्माण में गंगाजल का प्रयोग किया गया है जिससे यह कई महीनो तक सुरक्षित रहता है

    शास्त्रोक्त महत्त्व:

    आयुर्वेद में 7 धातुओं में अस्थि नमक एक धातु होती है जिस से हड्डियों का और दांतो का निर्माण होता है।

    अस्थि धातु को पोषण देने के लिए आयुर्वेद में मोती के चूने का महत्त्व बताया गया है जो एक विशेष प्रकार का चूना होता है।

    साधारण चूने से पथरी होने की सम्भावना होती है परन्तु मोती के चूने से वह सम्भावना नहीं है।

    इस उत्पाद में मोती के चूने के साथ प्रवाल भस्म, गोदन्ती भस्म, कपर्दिका भस्म का मिश्रण कर यह ड्रॉप्स बनाई गई है।

    150.00
  • Immune Prashan / इम्यून प्राशन – स्वर्णभस्म एवं रजत भस्म युक्त – 500gm

    बच्चो के लिए स्वर्ण प्राशन एवं बड़ो के लिए इम्यून प्राशन (ऋषिमुनि प्रतिकार प्राशन)

    रोग प्रतिकारक शक्ति को बढ़ाता है

    – वायरल इन्फेक्शन से बचाता है

    स्वर्ण भस्म, रजत भस्म, आंवला, गिलोय, तुलसी एवं पंचगव्य युक्त

    घटक द्रव्य:

    1. पंचगव्य घृत
    2. आमलकी रसायनम
    3. आंवला
    4. ब्राह्मी
    5. शंखपुष्पी
    6. पीपर
    7. द्राक्ष
    8. गिलोय
    9. तुलसी
    10. येष्टिमधु
    11. अश्वगंधा
    12. शतावरी
    13. विदारीकंद
    14. खसखस
    15. गोक्षुर
    16. ईलायची
    17. तेजपत्ती
    18. सुवर्णभस्म
    19. रजत भस्म
    20. अभ्रक भस्म
    21. अष्टवर्गप्रतिनिधि द्रव्य
    22. प्रक्षेप द्रव्य
    500.00
  • Gomay Bhasm (250gm)

    पानी में प्राणवायु बढ़ाने हेतु

    200.00
  • Mantraushadhi Dhatupushti Prashanam/मन्त्रौषधि धातुपुष्टि प्राशनम् 500gm

    Description

    Shastrokt (Vedic) Importance : Ayurveda describes the importance of strengthening the dhatu and purifying the dhatus. All such conducive medicines are processed together with avaleha process and then made into a prashan or an edible form. This prashan is very useful for both man and woman while planning to conceive. This cleanses and purifies the dhatu and strengthens/nourishes it.

    Relevant Mantra :
    वाजीकरण योगोsयं उत्तमः परिकीर्तितः।
    विदारी कन्दचूर्णश्च घृतेन पयसा पिबेत् सप्तधा आमलकी आमलक्यनुभावितः।।

    Ayurved Vidhan : Sushrut Samhita

    Why to Consume : Helps cleanse and purify seminal fluids and is the best energy providing rasayana

    Who Can Consume : Anyone

    500.00

Main Menu