गोधूली एप्प अब प्ले स्टोर पर उपलब्ध

स्वर्णप्राशन आरम्भ करने का अगला शुभ

पुष्यनक्षत्र: 10 अप्रैल

Gaudhuli App

Now on Play Store
  • Gau Svarnamrutam/ गौ स्वर्णमृतम् 200ml

    कैंसर , गांठ एवं weight loss की अद्भुत दवा।

    गोमूत्र के बेज में बनाई गई अद्भुत औषधि।

    Description

    आयुर्वेद के भावप्रकाश संहिता नामक ग्रंथ में घर में पालने योग्य और जिसके दूध, मूत्र इत्यादि औषधीय उपयोग में आते है ऐसे आठ पशुओं का वर्णन किया गया है।

    विज्ञानिक द्रष्टी से देखे तो सभी प्राणियों के मूत्र मे विभिन्न प्रकार के महत्व पूर्ण तत्व पाए जाते है। आधुनिक विज्ञान के मतानुसार गोमूत्र में 24 तत्व पाए जाते है| जो लेब टेस्ट से सिद्ध हुआ है, जिसमे नाइट्रोजन, सल्फर, अमोनिया, कॉपर इत्यादि मुख्य है।

    गिर गाय के गोमूत्र में तो स्वर्ण की मात्रा भी पाई जाती है।

    जामनगर के आयुर्वेद विशेषज्ञ एवं यूनिवर्सिटी के प्रिंसिपल रह चुके डॉ. किशोरचंद्र बलदानिया जी एवं संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‌ के आचार्य एवं परंपरागत चिकित्सा विशेषज्ञ वैध मेहुलभाई आचार्य जी ने विशेष संशोधन करके एवं प्रसिद्ध वैज्ञानिकों के रीसर्च को आधारभूत मानते हुए, गोमूत्र को आधारभूत मानते हुए, गोमूत्र को AS IT IS Preserve करने की विधि जान ली है। तथा उसमे विभिन्न औषधियों का मिश्रण करके गो-स्वर्णामृतम बनाया है।

    हमारा यह गो-स्वर्णामृतम मोटापा, शरीर में विभिन्न प्रकार की गांठें इत्यादि रोगों में बहुत ही लाभदायी सिद्ध हुआ है।

    100.00

Main Menu