गोधूली एप्प अब प्ले स्टोर पर उपलब्ध

स्वर्णप्राशन आरम्भ करने का अगला शुभ

पुष्यनक्षत्र: 18 जनवरी

Gaudhuli App

Now on Play Store

Dr. R.N. Varma’s Kneesol Magic Oil/ डॉ वर्मा का नीसोल मैजिक तेल – (Free from Steriods) (100 ml + 10ml extra)

285.00

In stock

Rs. 10 of on first 50 packs

पहली 50 शीशी पर 10 रु की छूट

 

  • भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिक द्वारा आविष्कारित विशुद्ध स्वदेशी उत्पाद
  • घुटनो और जोड़ो के दर्द निवारण हेतु एक स्वदेशी उत्पाद
  • नीसोल मैजिक ऑइल एक उच्च कोटि वाली आयुर्वेदिक औषधि है।
  • यह ऑस्टियो-आर्थराइटिस, रूमेटाइड आर्थराइटिस (गठिया), घुटने और जोड़ों के दर्द और सूजन के लिए अत्यंत उपयुक्त है।
  • इस तेल को पारंपरिक आयुर्वेदिक विधियों का पालन करके बनाया गया है।
  • इसे एक तेल में तैयार किया गया है, जिसमे प्रबल सूजन विरोधी व दर्दनाशक जड़ी बूटियों का युक्तिपूर्ण मेल है।
Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें
Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें
  • भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिक द्वारा आविष्कारित विशुद्ध स्वदेशी उत्पाद
  • घुटनो और जोड़ो के दर्द निवारण हेतु एक स्वदेशी उत्पाद
  • नीसोल मैजिक ऑइल एक उच्च कोटि वाली आयुर्वेदिक औषधि है।
  • यह ऑस्टियो-आर्थराइटिस, रूमेटाइड आर्थराइटिस (गठिया), घुटने और जोड़ों के दर्द और सूजन के लिए अत्यंत उपयुक्त है।
  • इस तेल को पारंपरिक आयुर्वेदिक विधियों का पालन करके बनाया गया है।
  • इसे एक तेल में तैयार किया गया है, जिसमे प्रबल सूजन विरोधी व दर्दनाशक जड़ी बूटियों का युक्तिपूर्ण मेल है

 विशेष जानकारी: इस तेल से प्रभावित स्थान पर मालिश बिलकुल न करें (दर्द बढ़ जायेगा) केवल हलके हाथो से लगाकर छोड़ दें

बिना दिशानिर्देश पढ़ें प्रयोग न करें

लाभ –

1) गठिया प्रभावित जोड़ों जैसे घुटनों, कलाई, टखनों, कूल्हों, कंधों आदि में दर्द और सूजन से राहत प्रदान करें।

2) जोड़ों की गतिशीलता में सुधार कर ऊतकों और मांसपेशियों को मजबूत करता है।

3) प्रभावित क्षेत्रों में रक्त संचार में सुधार करता है।

4) जोड़ो की मज़बूत करता है और लचीलेपन को बढ़ाने करने में मदद करता है।

 

कैसे प्रयोग करें –

1) प्रभावित जगह पर हल्के हाथों से तेल लगाकर, हल्के हाथों से मसाज करें।
(तेल से मालिश न करें, इससे दर्द बढ़ेगा)

2) सुबह और रात में तेल से मालिश करे। एक बार मे 20-25 बूंदों (2-3 मिलीलीटर) तेल का प्रयोग करें।

3) घुटने के दर्द के मरीज, घुटने से जुड़े व्यायाम न करें।
(कोई व्यायाम नहीं, कोई मॉर्निंग वॉक नहीं, कोई फिजियोथेरेपी नहीं)

4) सुबह, दोपहर और रात के भोजन के 90 मिनट बाद पानी पियें। पानी हमेशा बैठकर, घूंट-घूंट करके पिएं। फ्रिज (ठंडा) का पानी न पिएं।

5) दिन के पहले भोजन के साथ गेहूं के दाने के बराबर चूना या गोधूली से कैल्शियम ड्राप लें।
(पित्ताशय की थैली/गुर्दे की पथरी के रोगी पथरी के उपचार के बाद ही चूने का सेवन करें परन्तु कैल्शियम ड्राप लेने से पथरी के रोगी को पथरी से सम्बन्धी कोई दुष्प्रभाव नहीं होता)

6) कम से कम कपड़ों के साथ रोजाना 15-20 मिनट धूप लें।

7) इस तेल की 2 बूंद नाभि में लगाए,लाभ होगा।

सुरक्षा संबंधी जानकारी –

1) सिर्फ बाहरी उपयोग के लिए।

2) चिकित्सकीय सलाह के तहत प्रयोग करें।

3) बच्चों की पहुंच से दूर रखें।

4) उत्पाद का उपयोग करते समय निर्देशों को ध्यान से पढ़ें।

सावधानियां/परहेज –

1) रासायनिक रूप से उपचारित फल जैसे केला, आम आदि का सेवन न करें।

2) उपचार के समय किसी भी प्रकार के सूखे मेवे (अखरोट, बादाम, काजू आदि) का सेवन न करें।

3) किसी भी खट्टे पदार्थ या खट्टे फलों का सेवन न करें।

4) उड़द की दाल, बैगन, भारी अनाज (चना, राजमा आदि) न लें।

5) ठंडे पेय या फ्रिज के पानी से बचें।

6) मालिश न करें, इससे दर्द बढ़ जाएगा

नोट – सामान्य व्यक्ति (50 वर्ष से ऊपर) इस तेल को पीठ के निचले हिस्से और घुटनों पर दिन में एक बार लगाने से जोड़ों के दर्द की समस्या से बच सकते हैं।

रख रखाव-

तेल को ठंडी और सूखी जगह पर रखे तथा धूप और गर्मी से दूर रखें।

****************************

 

    • Product Information Kneesol Magic Oil is an advanced proprietary ayurvedic medicine indicated for effective management of Pain & inflammation of knee and joints associated with Osteo-arthritis and Rhematoid arthritis. The Oil is rational combination of clinically reported potent anti-inflammatory & analgesic herbs formulated in a fixed oil by following traditional ayurvedic processing methods.
    • Therapeutic Indications
      • Provide relief from pain and inflammation in arthritis affected joints like knees, wrists, ankles, hips, shoulders etc.
      • Improve joint mobility and strengthen tissues and muscles.
      • Improve circulation in the affected joint areas.
      • Helps to reduce joint tenderness and restore flexibility.
    • Key Ingredients
      • Zingiber officinale
      • Allium Sativum
      • Trachyspermum ammi
      • Trigonella foenum-graecum

Formulated in a fixed oil

    • Published research findings associated with ingredients of Kneesol
      • The phytoconstituents in Zingiber Officinale have been reported to modulate Pain and inflammation through various mechanisms: inhibition of prostaglandins via the COX and LOX-pathways, antioxidant activity, inhibition of the transcription factor nf–kB, or acting as agonist of vanilloid nociceptor.
      • The bioactive substances in Allium Sativum such as allicin, organosulfur, Selenium and phenolics are reported to suppress inflammatory factors.
      • Flavonoids and phenols present in Trachyspermum ammi is reported for suppression of inflammatory mediators and decrease in oxidative stress and in non clinical studies.
      • Thymol (one of the most important compounds found in T. ammi) has been reported to reduce the inflammatory factors including CRP, IL-1β, IL-6, TNF-α, TNF-β in non-clinical disease models.
      • Treatment with Trigonella foenum graecum has been reported to significant decrease the synovial proinflammatory markers such as IL-1α, IL-1β, IL-2, IL-6 and TNF-α levels in non-clinical studies.
    • Directions For Use
      1. Apply oil gently on the affected area with light hands.(Don’t massage with oil, as it will increase pain)
      2. Use 20-25 drops (2-3ml) of oil for each application in the morning and at night
      3. Knee Pain sufferers, do not do knee related exercises.(No Exercise, No Morning Walk, No Physiotherapy)
      4. Water~Drink 90 minutes after finishing the meals(Lunch and Dinner)Always sit and drink water sip by sip like tea. Don’t drink fridge (cold) water.
      5. Take Chuna (lime) equivalent to grain of wheat, along with 1st meal of the day.(Patients with Gallbladder / Kidney stones, should intake chuna after stone treatment)
      6. Take 15-20 minutes of Sunlight daily with minimum clothes.
      7. Application of 2 drops of the oil in the navel will be beneficial.
    • Safety Information
      • For external use only
      • Use under Clinical Supervision
      • Keep away from the reach of children
      • Read the directions carefully while using the product.
    • Precautions
      1. Do not eat chemically treated fruits like Bananas, Mangoes etc.
      2. Do not consume any kind of Dry Fruits during treatment time.
      3. Do not consume any sour substance or sour fruits.
      4. Do not take Urad Dal, Brinjal, Hard Gains(Gram, Rajma etc.)
      5. Avoid Cold Drinks or Fridge water.
      6. Do not massage, as it will increase the pain

Note – Normal person (above 50 years) can avoid joint pain problems by applying this oil on lower back and Knees once a day.

  • Storage
    • Keep the product in a cool and dry place away from sunlight and heat

Additional information

Weight 125 g

Customer Reviews

Based on 4 reviews
100%
(4)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
V
Vikas Vishwakarma
Dhanyavad r.n Verma aur godhuli parivar

8 dino ke bad pahli bar Ma ji ne kaha ki aaram Mila hai ab mujhe bharosa hone laga hai ki is oil se ma ko aaram mil jaega
Bahut achcha banaya Gaya hai ise dhanyvad doctor r.n Verma ji aur godhuli parivar

S
Sudhanshoo Sharma
Able to walk in proper way

Able to walk in proper way in short period of time

A
Ashwini kumar
Achhi hai.

15 din use ke baad,
Maa batati hai ki pahle se aaram hai.

N
Naveen kumar Rawal

Sir abhi koi result nahi milaa h ..baki hum use to kar hi rahe h ..thoda b aaram milaa to next order jarur dunga

See It Styled On Instagram

    Instagram did not return any images.

Main Menu

Dr. R.N. Varma's Kneesol Magic Oil/ डॉ वर्मा का नीसोल मैजिक तेल - (Free from Steriods) (100 ml + 10ml extra)

285.00

Add to Cart