गोधूली एप्प अब प्ले स्टोर पर उपलब्ध

स्वर्णप्राशन आरम्भ करने का अगला शुभ

पुष्यनक्षत्र: 01 जुलाई

Jivanti Capsules/जिवंती कैप्सूल 30 Capsules

150.00

Only 4 left in stock

Description

लाभ :

  • जीवंती तीनों दोषों का नाश करती है इसलिए त्रिदोषजन्य रोगों में लाभदायी है ।
  • यह द्रष्टिशक्तिवर्धक होने के कारण द्रष्टिमांद्य में अतीव लाभदायी है ।
  • जीवंती बल्य, ओजवर्धक और रसायनी होने के कारण क्षय, यक्ष्मा, दौर्बल्य आदि रोगों में उपयुक्त है ।
  • यह वृष्य और स्तन्यजनन होने के कारण शुक्रमेह और स्तन्य अल्पता में लाभकारी है ।
  • यह स्नेहन, अनुलोमन और ग्राही है । यह कोष्ठगत रुक्षता, विष्टम्भ और ग्रहणी रोग मिटाता है ।
  • जीवंती हृद्य और रक्तपित्तशामक है इसलिए हृदय की दुर्बलता और रक्तपित्त को दूर करता है ।

सेवनविधि :

सुबह-दोपहर-शाम १-१ कैप्सूल पानी के साथ लें ।

१२ साल तक की आयुवाले बच्चों को आधी मात्रा में औषध दें ।

सेवनयोग्य व्यक्ति :

१ साल से अधिक आयुवाला कोई भी व्यक्ति इसका सेवन कर सकता है ।

CONTAINS :

Jivanti

Net Volume : 30 Capsules

Who can consume : Anyone above the age of 1 year can consume.

Compare
Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें
Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें

आयुर्वेद के विभिन्न ग्रंथों में जीवंती का महत्व बताया है । जीवंती के पान को छाये में सुखाकर आयुर्वेद पद्धति से अर्क निकाला जाता है । आयुर्वेद के अनुसार जीवंती को रसायन गुणवाली बताई गई है और बहुत प्रकार के रोगों में इसका उपयोग होता है ।

The qualities of jeevanti plant has been described in Ayurveda texts. Jeevanti is put to dry in shade and the ark is extracted with ayurvedic method. Jeevanti is said to have qualities of rasayana and is used in treating various diseases.

Additional information

Weight 150 g

See It Styled On Instagram

    No access token

Main Menu