Karn Rog Nashini Dropper – कर्ण रोग नाशिनी बूँद

40.00

Out of stock

यह कर्ण के सभी रोगों के लिए लाभकारी है |

It is beneficial for all kinds of ear diseases.

 

बाहरी उपयोग में लाने हेतु निर्मित ( कर्ण  )

Made for external use only (ears)

 

पंचगव्य बूंद औषध (कर्ण) कान रोग के लिए लाभकारी

  1. इसे दोनों कानों में 1 से 2 बूंद डाल सकते है
  2. एक कान में डालने के बाद 10 मिनट तक उसी करवट में लेटे रहें
  3. इसके बाद ही दूसरी कान में डालें
  4. डालने का उपयुक्त समय सुबह 9 बजे और सायंकाल 4 बजे है
  5. इसे डालने के बाद प्रतिदिन रात्रि में सोने से पूर्व सूती कपडे से कान की सफाई करे

Email when stock available

Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें

Description

Spread The Word / गुणवत्ता का प्रचार करें

यह कर्ण के सभी रोगों के लिए लाभकारी है |

It is beneficial for all kinds of ear diseases.

बाहरी उपयोग में लाने हेतु निर्मित ( कर्ण  )

Made for external use only (ears)

पंचगव्य बूंद औषध (कर्ण) कान रोग के लिए लाभकारी

  1. इसे दोनों कानों में 1 से 2 बूंद डाल सकते है
  2. एक कान में डालने के बाद 10 मिनट तक उसी करवट में लेटे रहें
  3. इसके बाद ही दूसरी कान में डालें
  4. डालने का उपयुक्त समय सुबह 9 बजे और सायंकाल 4 बजे है
  5. इसे डालने के बाद प्रतिदिन रात्रि में सोने से पूर्व सूती कपडे से कान की सफाई करे

Panchgavya droplet medicine (Karna) is beneficial for ear disease

  1. You can put 1 to 2 drops in both ears.
  2. After pouring drops in one ear, lie in the same position for 10 minutes.
  3. Only then pour the drops into the other ear.
  4. The appropriate pouring time is 9 am and 4 pm
  5. After putting it, clean the ear every day with a cotton cloth before sleeping at night

Specification

Additional information

Weight 50 g

Customer Reviews

Based on 1 review
100%
(1)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
0%
(0)
व.ब.
त्वरित उपचार

See It Styled On Instagram

    Instagram did not return any images.

Cart

No products in the cart.